chessbase india logo

एथेंस ऑफ ईस्ट- अभिजीत,वेंकटेश,शायांतन बढ़त पर

by Nitesh srivastava - 16/08/2019

अखिल भारतीय शतरंज संघ की देखरेख और अनंती चेस एकेडमी के आयोजन में मदुरै में पहली बार आयोजित की जा रही एथेंस ऑफ ईस्ट इंटरनेशनल ग्रांडमास्टर ओपेन टूर्नामेण्ट अपने आधे से अधिक पड़ाव को पार कर चुकी हैं। बेहतरीन व्यवस्था के बीच होटल पोपीस में हो रहे इस टूर्नामेण्ट के ए कैटगरी में सात चक्रों की समाप्ति के बाद अपने शानदार खेल से 3 भारतीय खिलाड़ी अभिजीत गुप्ता ,शायांतन दास और एम आर वेंकटेश 6 अंकों के साथ संयुक्त बढ़त पर बने हुए है। सबसे आगे चल रहे वेंकटेश का विजय रथ छह राउंड के बाद रुक गया और उन्हें हार का सामना करना पड़ा जबकि अभिजीत और शायांतन जीतकर उनके बराबर पहुँच गए इनके अलावा रूस के स्मिरनोव पावेल और चिली के रोड्रिगो भी सयुंक्त बढ़त पर पहुँच गए है . इसी टूर्नामेण्ट के बी कैटगरी का समापन 13 अगस्त हो हुआ जिसमें चैम्पियनशिप का खिताब 219वीं सीटेड खिलाड़ी मध्यप्रदेश के रजत यादव (1367) ने 10 मैचों में अपराजित रहते हुए 9 अंक बनाकर जीत लिया। पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

क्या इनमें से कोई बनेगा विजेता ?

भारतीय शतरंज संघ की देखरेख में भारत के विभिन्न राज्यों में ग्रांडमास्टर स्तर की शतंरज प्रतियोगिता का आयोजन सफलता पूर्वक किया जा रहा है। इसी कड़ी में एक नया नाम जुड़ा है मदुरै का जहां 8 अगस्त से 18 अगस्त तक पहली बार एथेंस ऑफ द ईस्ट इंटरनेशनल ग्रांडमास्टर चेस टूर्नामेण्ट का आयोजन ए,बी,सी कैटेगरी में किया जा रहा है। आयोजकों की मेहतन और अपनी बेहरीन व्यवस्था से यह टूर्नामेण्ट में खिलाड़ियों को भा गया हैं। कैटगरी ए वर्ग के टूर्नामेण्ट में भारत सहित 11 देशों के 9 ग्रांडमास्टर और 14 आईएम सहित कुल 180 खिलाड़ियों ने प्रतिभाग कर प्रतियोगिता को सफल बनाने में अपना भरपूर योगदान दे रहे हैं। मिस्टर कॉमनवेल्थ नाम से मशहूर और पांच बार के कॉमनवेल्थ चैम्पियन ग्रांडमास्टर अभिजित गुप्ता प्रतियोगिता के टॉप सीटेड खिलाडी है।

सात चक्रों की समाप्ति के बाद टूर्नामेण्ट अपने रोमांच के दौर से गुजर रहा है। 13वीं सीटेड आईएम सायांतन दास सात मैचों में 6 मैच जीत कर अंकतालिका में पहले स्थान पर काबिज हो गए है। सात राउण्ड में सबसे बेहतरीन जीत उनकी चौथे राउण्ड में रूस के ग्रांडमास्टर बोरिस सवचेंको के खिलाफ रही। बात करें सातवें राउण्ड की तो चौथे बोर्ड पर सफेद मोहरों से खेलते हुए सायांतन दास ने पी श्यामनिखिल को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। दोनों के बीच केरो-कन डिफेंस के एक्चेंज वैरिएशन से मैच खेला गया। 16वीं चाल दोनों के बीच मैच बराबरी खेला जा रहा था लेकिन 17वीं चाल में श्यामनिखिल ने अपने प्यादे को एफ 6 खाने पर चलकर एक बड़ी गलती कर दी और किंग्स साइड किलेबंदी करने का अवसर गंवा दिया। सायांतन ने इस चाल के बाद कोई गलती नहीं की और अपने उंट से एच 7 के प्यादे कर एक प्यादे की बढ़त हासिल कर ली। इसके बाद अपने एक से बढ़ कर बेहतरीन चालों से श्यामनिखिल को हैरत में डालते हुए 31 चालों में मैच को अपने पक्ष में कर लिया।

टूर्नामेण्ट में लगातार 6 राउण्ड तक अपने सभी मैच जीतकर अंकतालिका में पहले स्थान पर चल रहे ग्रांडमास्टर एमआर वेंकटेश (2480) सातवें राउण्ड अपना लय खो बैठे। पहले बोर्ड पर खेलते हुए रूस के ग्रांमास्टर पावेल स्मिरनोव के हाथों हार का सामना कर प्रतियोगिता में संयुक्त रूप पहले व अंकतालिका में दूसरे स्थान पर खिसक गए।

पांच बार के कॉमनमवेल्थ चैम्पियन व मिस्टर कॉमनवेल्थ नाम जाने जाने वाले ग्रांडमास्टर अभिजीत गुप्ता (2612) का भी इस टूर्नामेण्ट में बेहरीन प्रदर्शर जारी है। टूर्नामेण्ट में अब तक अपनो कोई भी मैच नहीं गंवाते हुए अभिजीत ने सात चक्रों के मैंच में छह अंक बनाकर संयुक्त रूप से पहले और अंकतालिका में तीसरे स्थान पर बने हुए है। सांतवें चक्र में दूसरे बोर्ड पर सफेद मोहरों से खेलते हुए अभिजीत ने किंग्स इंडियन डिफेंस शैली से खेलते हुए पी कार्तिकेयन को अपने प्यादों की संरचना में उलझाया रखा और अपने किंग्स साइड से अपने दो हाथी और रानी से शानदार आक्रामण करते हुए (जिसमें इनके घोड़े ने भी बखूबी इनका साथ निभाया) 39 चालों में पी कार्तिकेयन को हार स्वीकारने पर मजबूर कर दिया।

प्रतियोगिता के सातवें राउण्ड में 15वे बोर्ड पर चल रहे मैच ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। इस बोर्ड पर एक बड़ा उलटफेर तब हो गया जब बेहद अनुभवी आईएम के रत्नाकरन को उड़ीया के बैवब मिश्रा ने पराजित कर हैरत में डाल दिया।

Pairings/Results

Round 8 on 2019/08/16

Bo.No. NameRtgClub/CityPts.ResultPts.NameRtgClub/City No.
13
GMSmirnov Pavel2574RUS66GMGupta Abhijeet2616PSPB
1
27
GMVasquez Schroeder Rodrigo2496CHI66GMVenkatesh M.R.2480PSPB
8
313
IMDas Sayantan2409WB6GMTukhaev Adam2541UKR
4
411
GMLaxman R.R.2426ICFGMSavchenko Boris2576RUS
2
55
IMTriapishko Alexandr2519RUSIMMuthaiah Al2384TN
15
651
CMNikhil Magizhnan2124TNGMMosadeghpour Masoud2509IRI
6
79
IMShyaamnikhil P2457ICF55Sahoo Utkal Ranjan2278ORI
24
832
Ram S. Krishnan2224BSNL55IMKhusenkhojaev Muhammad2442TJK
10
912
GMKarthikeyan P.2422ICF55FMAaryan Varshney2272DEL
25
1034
Baivab Mishra2215ORI55IMNitin S.2358S.Rly
19

 

कैटगरी बी- मध्यप्रदेश के रजत यादव बने चैम्पियन

एथेंस ऑफ द ईस्ट इंटरनेशनल ग्रांडमास्टर चेस ओपन टूर्नामेण्ट के बी कैटगरी का समापन 13 अगस्त को सफलतापूर्वक हो गया। प्रतियोगिता में चैम्पियन का ताज 219 सीटेड खिलाड़ी मध्यप्रदेश के रजत यादव (1367) के सिर सजा। रजत के प्रतियोगिता में अपने अप्रत्याशित खेल से सभी को हैरत में डालते हुए अपराजित रहते हुए 9 अंक बनाए। उन्होंने जहां अपनी रेटिंग में शानदार 120 अंकों की बढ़त हालिस की वहीं चैम्पियन बनने पर उन्हें एक लाख रुपये की धनराशि भी मिली।

उपविजेता का खिताब टाईब्रेक के आधार पर तमिलनाडु के आदित्य रमेश (1579) ने जीता। 38वीं सीटेड इस खिलाड़ी ने अपना कोई भी मैच नहीं गंवाते हुए 9 अंक बनाये और अपनी रेटिंग में भी 98 अंक जोडे। इन्हें 80 हजार रुपये की राशि मिली। तीसरे स्थान पर केरल के बाला गनेशन रहे। 177वीं सीटेड गनेशन(1416) ने 8.5 अंक बनाते हुए अपने रेटिंग में भी 99 अंकों का सुधार किया। इन्हें चमचमाती ट्राफी के साथ 60 हजार रुपये की धनराशि मिली।

वर्ग बी के शीर्ष 10 खिलाडी

Rk.SNo NameTypsexFEDRtgIClub/CityPts. TB1  TB2  TB3  TB4  TB5 
1219Rajat YadavIND1367MP9,00,565,569,060,758
238Adithya RameshU13IND1579TN9,00,561,565,557,508
3177Bala GaneshanIND1416KER8,50,066,069,556,758
435Ragesh Sarma.MIND1583TN8,50,062,065,552,508
570Sasikumar NIND1530TN8,00,060,563,546,507
616Ravi ChopraIND1634UP8,00,060,064,549,507
771Kannan R.IND1528TN8,00,058,062,548,507
825Kalbande MayurIND1614MP8,00,056,561,047,257
965Prasath K RIND1536TN8,00,055,059,549,508
104Afreed T KhanIND1693AP8,00,054,058,046,508

वर्ग A के सभी शीर्ष मुकाबले